How to Bring Ideas of Startup with Examples
Business

उदाहरण के साथ स्टार्टअप के विचार कैसे लाएं | Startup Ideas with Examples

उदाहरण के साथ स्टार्टअप के विचार कैसे लाएं

भारत में कई स्टार्टअप खुलते और बंद होते हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे स्टार्टअप के बारे में बताने जा रहे हैं। जिनका भारत में नेटवर्क करोड़ों से भी ज्यादा है। आज हम जानेंगे कि कैसे अपना खुद का व्यवसाय शुरू करें और अपना नाम कमाएं। कहने को तो दुनिया में गूगल, माइक्रोसॉफ्ट, फेसबुक, एमेजॉन आदि जैसे स्टारडम की भरमार है लेकिन आज हम बात करेंगे कुछ ऐसे स्टार्टअप्स के बारे में जिन्होंने भारत में जन्म लिया।

यानी यह स्टार्टअप भारत में बना और तेजी से पूरी दुनिया में फैल गया। यह तेज़ था क्योंकि उसने लोगों को जो सेवा दी वह बहुत अच्छी थी। इन कुछ स्टार्टअप्स की सर्विस लोगों को काफी पसंद आने लगी थी, जिससे लोगों ने इन स्टार्टअप्स को बढ़ाने में अहम भूमिका निभाई।

क्या आप भी अपना स्टार्टअप स्थापित करना चाहते हैं और उनकी तरह पूरी दुनिया में मशहूर होना चाहते हैं। तो आज आप हमारे इस पोस्ट को बिल्कुल भी मिस ना करें क्योंकि इसमें हम आपको शुरुआत से लेकर पांच बेहद शानदार स्टार्टअप्स के बारे में बताने जा रहे हैं।

उदाहरण के साथ स्टार्टअप के विचार

किसी भी ऑनलाइन कंपनी को शुरू करने से पहले हमें उस कंपनी से जुड़ी दूसरी कंपनी के बारे में सोचना चाहिए। यदि आप भविष्य में उठना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको बाजार में संदेश देना होगा ताकि आप पता लगा सकें कि बाजार में किस चीज की मांग ज्यादा हो रही है।

आप मार्केटिंग संदेशों को सही तरीके से करने में सक्षम होंगे, उसी तरह आप अपने स्टार्टअप को बेहतर बना पाएंगे। क्योंकि आज के समय में लोग स्टार्टअप की नकल करने वाले लोगों की नकल कर रहे हैं जो ऊपर किया जा चुका है। लेकिन क्या आपको लगता है कि ये सही है? वास्तविक अर्थों में यह बिल्कुल भी सत्य नहीं है।

जैसे गूगल का ही उदाहरण लें कि गूगल से पहले याहू एक सर्च इंजन था। लेकिन Yahoo इतना सफल नहीं था और उससे पहले Google आया और अपडेट लाया और सफल हो गया। हम इस प्रकार की स्थितियों से सीख सकते हैं कि यदि वर्तमान में कोई लोकप्रिय ऐप है और उसमें कुछ कमी है, लेकिन आप उस कमी को दूर कर सकते हैं।

तो आप एक नया स्टार्टअप लॉन्च कर सकते हैं और ठीक होने से पहले उस कमी को पूरा कर सकते हैं। रिलायंस ने भी कुछ ऐसा ही किया, उसे पता था कि इस समय कई मोबाइल टेलीकॉम कंपनियां मौजूद हैं। लेकिन उन्होंने Jio को एक ऐसी कंपनी के रूप में लाया जो सभी समस्याओं का समाधान लेकर आई है। जो कि दूसरी कंपनियों के लिए काफी मुश्किल काम था। जिससे बाकी कंपनी घाटे में चली गई और Jio ने पूरी दुनिया में अपनी छाप छोड़ी।

1. Flipkart

फ्लिपकार्ट एक ई-कॉमर्स ऑनलाइन कंपनी है जिसका गठन अक्टूबर 2007 में भारत के एक बहुत प्रसिद्ध शहर बैंगलोर में हुआ था। क्या आप जानते हैं कि आज के समय में Amazon का नाम पूरी दुनिया में नंबर वन ई-कॉमर्स वेबसाइट में आता है, वहीं अलीबाबा का नाम चीन की नंबर वन ईकॉमर्स वेबसाइट में आता है.

लेकिन अगर हम भारत में एक कॉमर्स वेबसाइट की बात करें तो फ्लिपकार्ट का नाम आता है। फिलहाल फ्लिपकार्ट की पैरेंट कंपनी का नाम वॉलमार्ट है। आज के समय में फ्लिपकार्ट ने बहुत सारे रिकॉर्ड बना लिए हैं और यह ऑनलाइन दुनिया में काफी मशहूर हो गया है। यदि आप किसी उत्पाद की खोज करते हैं, तो आप Google खोज इंजन के शीर्ष पर फ्लिपकार्ट की वेबसाइट भी पा सकते हैं।

क्योंकि A डिजिटल दुनिया में काफी अच्छी तरह से फिट हो चुका है। और वे अपने कई प्रकार के Affiliate Programs के तहत अपनी वेबसाइट को ऊपर ले जाते हैं। यह एक ऑनलाइन कॉमर्स कंपनी है जिसका पूरा फोकस डिजिटल दुनिया पर है। अगर आपने सोचा है कि आपने सिर्फ डिजिटल दुनिया में ही कमाया है, तो आप सही हैं। क्योंकि आज दुनिया में अगर सबसे ज्यादा कमाई है तो वो है डिजिटल दुनिया।

चाहे वह ई-कॉमर्स वेबसाइट हो या सोशल मीडिया वेबसाइट या सर्च इंजन या कोई अन्य न्यूज मीडिया वेबसाइट। सभी डिजिटल मीडिया पर निर्भर हैं और जिस पर आज दुनिया की सबसे ज्यादा कमाई हो रही है। फ्लिपकार्ट भारत की नंबर एक ई-कॉमर्स वेबसाइट है और यह पूरी डिजिटल दुनिया पर टिकी हुई है।

2. ज़ोमैटो

फिलहाल Zomato ने IPO लॉन्च कर ऑनलाइन फूड कंपनी में एक अलग नाम कमाया है। जैसे ही यह आरंभिक सार्वजनिक पेशकश शुरू हुई, यह बहुत लोकप्रिय हो गई और कई लोगों ने अपना आईपीओ खरीद लिया।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि Zomato को जुलाई के महीने 2008 में बनाया गया था. इसका प्रस्ताव ऑनलाइन फूड डिलीवरी को आसान बनाने का था. आपने डोमिनोज पिज्जा का नाम तो सुना ही होगा जो 30 मिनट में पिज्जा डिलीवर कर देता है। और उसका दावा है कि अगर डोमिनोज पिज्जा 30 मिनट के अंदर डिलीवर नहीं हुआ तो पिज्जा फ्री में दे दिया जाएगा।

लेकिन जोमैटो ने बाजार को भुनाने के लिए एक नया तरीका निकाला है। यह कहता है कि हम भोजन वितरण को आसान बनाने के लिए पैदा हुए हैं। और इसी मकसद से सरकार बनाने के लिए Zomato भारत में और भारत के अलावा कई देशों में काम कर रहा है।

3. हाइक मैसेजिंग ऐप

हाइक दिसंबर 2012 में भारत द्वारा बनाया गया एक मैसेजिंग ऐप है। इसका उद्देश्य भारत में मैसेजिंग प्रक्रिया को सरल बनाना और भारत का अपना मैसेजिंग ऐप बनाना था। आज के समय में फेसबुक व्हाट्सएप जैसे कई ऐप हैं जो मैसेजिंग के लिए इस्तेमाल होते हैं।

इसी तरह भारत का अपना ऐप है जिसने पूरी दुनिया को हिला कर रख दिया है। इसका नाम हाइक ऐप है जिसका उद्देश्य इसके संपूर्ण उद्देश्य संदेश को सरल बनाना है और यह वर्तमान में आईओएस और एंड्रॉइड संस्करणों में उपलब्ध है। अगर आप इस ऐप का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आप गूगल प्ले स्टोर पर हाइक ऐप डाउनलोड कर सकते हैं और मैसेजिंग को आसान बना सकते हैं।

अगर आप इसके बारे में और जानना चाहते हैं तो हमें कमेंट बॉक्स में बताना न भूलें। हम आपके लिए हाइक मैसेजिंग ऐप के बारे में एक महान अध्ययन के साथ उपस्थित होंगे |

4. Paytm

पेटीएम का नाम किसने नहीं सुना है, यह ऑनलाइन वॉलेट और सर्विस मुहैया कराने वाली एक बहुत ही मशहूर कंपनी है। बहुत से लोग Paytm की जगह BHIM UPI PayPal M Connect Plus जैसे ऑनलाइन पेमेंट ऐप का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन अगर आप पेटीएम का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आप इसे बहुत आसानी से कर सकते हैं क्योंकि यह बहुत ही पॉपुलर ऐप है।

आज के समय में Paytm ने एक अलग ही धमाका किया है. इस ऐप का जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल करना आपको नुकसान भी पहुंचा सकता है क्योंकि इसका सही तरीके से इस्तेमाल करना चाहिए। ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि सभी ऑनलाइन पेमेंट ऐप मौजूद हैं, अगर आप इनका सही तरीके से इस्तेमाल नहीं करेंगे तो यह काफी जोखिम भरा हो सकता है।

वैसे ये कैसे पूरी तरह से सुरक्षित हैं, बस आपको अपनी डिवाइस किसी और के हाथ में नहीं देनी चाहिए. न ही उन्हें अपने डिवाइस का पासवर्ड बताना चाहिए।

5. ओला कैब्स

ओला कैब एक कार रेंटल सर्विस कंपनी है जो एक ऑनलाइन ऐप के जरिए कार मुहैया कराती है। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि इस समय ओला की जगह ओवर का भी काफी इस्तेमाल हो रहा है. अभी के लिए आप समझ गए होंगे कि Ola का मतलब क्या होता है।

ऑनलाइन कार रेंटल सर्विस प्रोवाइडर Ola के पास कंपनी की खुद की कार नहीं है, लेकिन यह कार किराए पर लेती है और किराए पर देती है। ऐसी प्रक्रिया से यह कमीशन कम आता है और आज यह पूरी दुनिया में बहुत प्रसिद्ध हो गया है।

अगर आपके पास भी किसी तरह का स्टार्टअप शुरू करने का विचार है तो आप बहुत ही आसानी से शुरू कर सकते हैं। जैसा कि आप जानते हैं कि किसी भी स्टार्टअप को शुरू करने से पहले हमें उस स्टार्टअप के बारे में अच्छी जानकारी होनी चाहिए। इसी तरह चाहे फ्लिपकार्ट ऐप हो या ज़ोमैटो ऐप या हाइक ऐप या पेटीएम या ओला या किसी अन्य प्रकार के ऐप। सारे ऐप ऑनलाइन चलते हैं और इसी वजह से ये पैसे मिलते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *